सुस्वागतम्‍

आपका हार्दिक स्वागत है, आप
से पधारे हैं, आपको यह चिट्ठा कैसा लगा? अपनी बहूमूल्य राय से हमें जरूर अवगत करावें,धन्यवाद।

साईडबार में "मेरे चिट्ठे में खोजें" बटन लगायें

add a search engine button to your blogger sidebar

मानिये अगर मुझे ज्ञानजी के चिट्ठे पर भरतलाल से संबधित कोई लेख पढ़ना है, या यूनूस भाई के चिट्ठे पर जयदेव जी से संबधित कोई लेख देखना है; और मुझे उसका लिंक याद नहीं है तो मुझे उनके चिट्ठे पर आर्चिव में जा कर एक एक पोस्ट देखनी होगी, या फिर गूगल में खोजना होगा। गूगल में भी खोजा जा सकता है पर वह तो भरतलाल या जयदेव जी से संबधित सारे लिंक बतायेगा

क्यों ना हम अपने चिट्ठे के साईडबार में एक " मेरे चिट्ठे पर खोजें" नाम की खिड़की लगा दें, जिससे जब भी कोई पाठक किसी विशेष शब्द के बारे में जानकारी चाहे तो उस खोजें खिड़की में जा कर वांछित शब्द लिखे और उसे तुरंत जानकारी मिल जाये।

फोटो देखें

खोजें

आईये मेरे चिट्ठे में खोजें नाम का औजार लगाते हैं।

DashBoard- Layout- में जाकर Add a page Element पर क्लिक करें।

Java Script/HTML वाली विजेट पसन्द करें

नीचे दिया कोड कॉपी कर विजेट में पेस्ट करें



<form action="http://www.google.com/custom" method="get">
<input value="20" name="num" type="hidden"/>
<input value="mahaphil.blogspot.com" name="domains" type="hidden"/>
<input value="mahaphil.blogspot.com" name="sitesearch" type="hidden"/>
<input value="UTF-8" name="ie" type="hidden"/>
<input value="UTF-8" name="oe" type="hidden"/>
<input name="q" size="20" type="text"/>
<input value="en" name="hl" type="hidden"/>
<input value="महफिल में खोजें" name="sa" type="submit"/>
</form>





कोड में जहाँ गीतों की महफिल का लिंक दिया है उसे बदल कर अपने चिट्ठे का लिंक लगा दें।( ध्यान दें http:// या www. नहीं लगाना है)

आप चाहें तो गूगल की बजाय कोई और सर्च ईंजिन का लिंक ( पहली लाईन में) दे सकते हैं।

जहां हिन्दी में लिखा है महफिल में खोजें उस जगह आप अपने चिट्ठे का नाम लिख दें या कुछ और जो आपको अच्छा लगे।

विजेट को सुरक्षित करें।

विजेट को खींच कर उचित स्थान पर लगायें और एक बार फिर से Save करें।

बस देखिये आपके चिट्ठे पर गूगल खोज की खिड़की आ चुकी है।




Technorati Tags: ,,

8 टिप्पणियाँ:

yunus said...

जे हुई ना बात । वैसे हमने तो लगा रखा है गूगल एडसेन्‍स की ओर से ।

yunus said...

अरे हां सागर भाई कमेन्‍ट वाली इस खिड़की का ट्यूटोरियल कब लिखने वाले हैं आप ।

कमल शर्मा said...

सागर भाई आपने बेहद उपयोगी चीज बताई। आपके यहां से देखकर मैंने अभी अभी इसे वाहमनी पर लगाया है। आपका दिल से धन्‍यवाद।

Sanjeet Tripathi said...

बढ़िया जुगाड़, वाकई जुगाड़ गुरु हो गए हो आप तो इस सब में!

Gyandutt Pandey said...

जै जुगाड़ गुरू की!
हमने लगा भी लिया और "भरतलाल" सर्च कर देख भी लिया!

Udan Tashtari said...

ठीक है, लगाता हूँ. :)

अभय तिवारी said...

वाह सागर बढ़िया जुगाड़ बताया है..

महावीर said...

नाहर भाई
आपके इस ब्लॉग का ऐसा चस्का लगा है कि दूसरे ब्लॉग देखने का चांस भी नहीं मिलता। आप जानते ही हैं कि मैं तकनीकी के मामले में अनाड़ी हूं।
लेकिन आपकी सहायता से कई चीजें सीख लीं। एक्सप्लोरर की खिड़की भी खोल ली। धन्यवाद।
हाँ, एक और बात जानना चाहता हूं कि फावतार मेरे बलॉग पर भी लगू हो सकता है या नहीं।
मैं मोज़िला फायरफॉक्स वर्डप्रेस पर अपना ब्लॉग इस्तेमाल करता हूं।
http://mahavir.wordpress.com/
हो सके तो बताईयेगा।
महावीर

 
template by : uniQue  |    modified by : सागर नाहर   |    Header Image by : Deepa